BIHARMIRROR

Welcome to Biharmirror

Bhagalpur News In Hindi : Rs 20 hike in daily wages, indefinite strike of angry cleaning workers started | दैनिक मजदूरी में 20 रुपए वृद्धि, नाराज सफाई कर्मियों की अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू

  • जलजमाव व गंदगी से पटा शहर, मास्टर रोल व एनजीओ के 170 कर्मियों की हड़ताल से बदतर हो जाएंगे हालात

दैनिक भास्कर

Jul 02, 2020, 07:05 AM IST

लखीसराय. नगर परिषद में मास्टर रोल एवं एनजीओ में काम करने वाले 170 सफाई कर्मी बुधवार से अनिश्चतकालीन हड़ताल पर चले गए हैं। सफाई कर्मी की एक सूत्री मांग पटना नगर निगम के तर्ज पर दैनिक मजदूरी भुगतान करने की है। नगर परिषद ने हाल में ही सफाई कर्मियों के दैनिक मजदूरी में 20 रुपये की वृद्धि की है।
नप ने कोरोना संक्रमण काल में बेहतर काम करने वाले सफाई कर्मियों को कोरोना योद्धा का सम्मान देते हुए मजदूरी में इजाफा किया था। सफाईकर्मी इस वृद्धि से असंतुष्ट हैं और बिना नगर परिषद को पूर्व में कोई सूचना दिए ही सफाई कर्मी हड़ताल पर चले गए हैं। मास्टर रोल पर काम करने वाले मजदूरों की संख्या 80 एवं एनजीओ के सफाई कर्मियों की संख्या 90 है। इन कर्मियों अचानक हड़ताल पर चले जाने से शहर की सफाई व्यवस्था चरमरा गई है।

नगर परिषद प्रशासन ने हड़ताल के पहले दिन किसी तरह मात्र 24 स्थायी सफाई कर्मियों से शहर की सफाई कराई। नप का दावा है कि सफाई कर्मियों के हड़ताल से साफ-सफाई का काम प्रभावित नहीं हुआ है। उनके बदले स्थाई सफाई कर्मियों को काम में लगाया गया है। हालांकि शहर के 33 वार्डों की सफाई 24 कर्मियों के भरोसे असंभव नजर आ रही है। गौरतलब है कि दैनिक मजदूरी में वृद्धि को लेकर बीते छह महीने में सफाई कर्मियों की यह दूसरी हड़ताल है।

चरमराएगी शहर के सफाई की व्यवस्था
सफाई कर्मियों के हड़ताल के पहले दिन ही शहर में जहां-तहां गंदगी पसरा देखा गया। ऐसे में हड़ताल लंबा चला तो शहर की सफाई व्यवस्था प्रभावित होगी। बारिश के दिनों में शहर में पहले से जल जमाव एवं गंदगी जहां-तहां पसरी है। हड़ताल के कारण स्थिति और भी दयनीय हो जाएगी।

नप ने कहा- 340 से बढ़ा कर 360 रुपए दे रहे मजदूरी

मास्टर रोल पर काम करने वाले सफाई कर्मियों ने पटना नगर निगम के मजदूरों के बराबर मजदूरी की मांग की। राज्य स्थानीय निकाय कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष सुरेंद्र मल्लिक ने कहा कि पटना नगर निगम अतिकुशल मजदूर के रूप सफाई कर्मियों को प्रतिदिन 427 रुपए की दर से मजदूरी का भुगतान कर रही है। इससे कम मजदूरी उन्हें मंजूर नहीं है। इस बाबत डीएम ने भी आदेश किया है।

लेकिन नगर परिषद इस पर कुंडली मारे बैठी है। कहा कि मजदूरी बढ़ाए बिना काम पर नहीं लौटेंगे। मास्टर रोल पर काम करने वाले मजदूरों को पहले 340 रुपये की मजदूरी मिलती थी। हाल ही सशक्त स्थाई समिति ने उनके दैनिक मजदूरी में 20 रुपए की वृद्धि की है। वर्तमान में सफाई कर्मियों के लिए 360 रुपये की दर से मजदूरी तय की गई है। अब सफाई कर्मी 427 रुपए की दर से दैनिक मजदूरी की मांग पर अड़े हुए हैं।

हड़ताल खत्मक कराने के लिए करेंगे बातचीत
हाल के दिनों में दैनिक मजदूरी में 20 रुपए की वृद्धि की गई है। लखीसराय से ज्यादा किसी भी नगर निकाय में दैनिक मजदूरी नहीं मिलती है। हड़ताल खत्म कराने के लिए सफाई कर्मियों से बातचीत करेंगे। -अरविंद पासवान, सभापति, नप

Source link