BIHARMIRROR

Welcome to Biharmirror

Muzaffarpur News In Hindi : Black water of Manusmara spread in Aurai, deepening crisis on kharif crop in hundreds of acres | औराई में फैला मनुषमारा का काला पानी, सैकड़ों एकड़ में लगी खरीफ की फसल पर गहराया संकट

  • चर्म रोग व पशुजनित रोग के फैलने की है आशंका, बागमती की मुख्यधारा में भरी गाद निकालने का प्रयास
  • लखनदेई नदी के जलस्तर में आई कमी, लेेकिन कई जगहों पर फैल चुका है पानी

दैनिक भास्कर

Jul 06, 2020, 08:52 AM IST

औराई. लखनदेई के जलस्तर में कमी आई है, लेकिन खरीफ फसल के मौके पर कई क्षेत्रों में इसका पानी फैला है। दूसरी ओर मनुषमारा का काला पानी धरहरवा पंचायत के कई भागों में फैल चुका है। धरहरवा पंचायत के रामबाग, महावीर स्थान, अम्बेदकर नगर,  हनुमान नगर, चैनपुर सहित इलाकों में काला पानी फैल चुका है। पंचायत की पंसस कल्पना कुमारी ने बताया कि चौर में फैले काले पानी से विगत वर्ष की तरह इस वर्ष भी सैकड़ाें एकड़ में लगी फसल नष्ट होने का अनुमान है। कोरोना काल में किसानों पर दोहरी मार कमर तोड़ देने वाली है।

मनुषमारा के काले पानी से चर्म रोग एवं पशुजनित रोग के फैलने की आशंका है। बागमती की मुख्य धारा में गाद भर जाने के कारण मजदूरों के द्वारा कुदाल से सिल्ट्रेशन हटाने का काम बेनीपुर के निकट चल रहा है। उपधारा के पहले नया रिफ्लेक्शन पाॅइंट बनाने के लिए बंबाे पायलिंग शुरू हो चुकी है। इसके लिए सैकड़ाें की संख्या में मजदूरों को लगाया गया है, ताकि उपधारा में पानी का दबाव कम से कम बने। लेकिन मुख्य धारा के लगभग बंद हो जाने से यह प्रयास इस वर्ष संभव नहीं दिख रहा है।
5 फीट धंसा अधूरे बने पुल का डायवर्सन आवागमन बाधित, लाेगाें ने किया प्रदर्शन
बरूराज- देवरिया पथ के सिरसिया चौक के समीप बारिश के कारण निर्माणाधीन पुल का डायवर्सन रविवार को 5 फीट नीचे धंस गया, इससे उक्त मार्ग पर बड़ी सहित सभी गाड़ियों का परिचालन बाधित हो गया है। डायवर्सन की मरम्मत नहीं होने से आवागमन की दिक्कत झेल रहे लोगों ने रविवार को पुल के पास प्रदर्शन किया।

संवेदक के खिलाफ नारेबाजी भी की। पारसनाथ सिंह, रामनारायण तिवारी, गोरख ठाकुर, मदन साह ने बताया कि क्षतिग्रस्त हुआ डायवर्सन अब जानलेवा हो गया है। अब तक इसमें गिरने से कई लोगों के हाथ-पांव टूट चुके हैं। इस पर बड़ा हादसा भी हो सकता है। लोगों का आरोप है कि बार-बार कहने के बाद भी संवेदक द्वारा डायवर्सन की मरम्मत नहीं कराई गई।

Source link