BIHARMIRROR

Welcome to Biharmirror

Muzaffarpur News In Hindi : Two youths abducted from bike and shot ten bullets in the chest, son of Agriculture Department worker died on the spot | दो युवक बाइक से अगवा कर लाए और सीने में मार दीं दस गोलियां, कृषि विभाग के कर्मी के बेटे की मौके पर ही मौत

  • रेवा बसंतपुर (दक्षिण) पंचायत भवन के निकट की घटना, स्वचालित पिस्टल के कई खाेखे भी मिले
  • हत्या के बाद बाइक सवार दोनों शूटर हथियार लहराते भाग निकले
  • प्रेम प्रसंग में बदला लेने के लिए हत्या करने की इलाके में है चर्चा

दैनिक भास्कर

Jul 13, 2020, 06:07 AM IST

मुजफ्फरपुर/ सरैया. थाना क्षेत्र के रेवा बसंतपुर (दक्षिण) पंचायत सरकार भवन के निकट बाइक से आए दो युवकों ने साथ में अपहरण कर लाए युवक को खड़े कर ताबड़तोड़ फायरिंग की। आठ से दस गोली लगने के बाद तीसरे युवक ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। घटनास्थल पर मौजूद लोगों की मानें तो बहन से प्रेम-प्रसंग का बदला लेने के लिए यह हत्या की गई है। जिस पर गोली मारने का आरोप है, उसकी बहन भी मर चुकी है। हत्या के बाद दोनों शूटर हथियार लहराते हुए भाग निकले। पास के खेतों में धान रोपनी कर रहे किसान व मजदूर गोली चलने की आवाज पर भाग खड़े हुए। बाद में भीड़ इकट्ठी हुई तो युवक की पहचान पटेढ़ी निवासी कृषि विभाग के कर्मचारी पप्पू सिंह के पुत्र विक्की के रूप में हुई। मृतक हाजीपुर में एक निजी कंपनी में कार्यरत था। घटना स्थल से विक्की के घर की दूरी महज डेढ़ किमी है। सूचना के बाद पिता घटना स्थल पर पहुंचे। उन्हाेंने गांव के मुखिया के पुत्र व दातापुर के एक युवक पर बेटे की हत्या का आरोप लगाया है। उन्हाेंने बताया, दोनों पुत्र के करीबी थे। दोनों ने चंद मिनट पहले ही बेटे को घर से बुला कर बाइक से ले गए थे। घटना की गंभीरता को देखते हुवे एसडीपीओ सरैया राजेश कुमार, थानाध्यक्ष अजय पासवान घटना स्थल पर पहुंचे और छानबीन की। शव को पोस्टमाॅर्टम के लिए एसकेएमसीएच भेजा गया है। पिता ने बताया कि विक्की की शादी तय हो गई थी। हालांकि, लॉकडाउन के चलते  तिथि तय नहीं हाे पाई थी। बताया जाता है, घटना के बाद पारू विधायक अशोक कुमार सिंह भी पहुंचे। वहीं, उन्हाेंने मृतक के परिजनाें से भी मिलकर सांत्वना दी। एसडीपीअाे से मिलकर हत्या की गुत्थी जल्द सुलझाने की बात कही। वहीं देर रात तक प्राथमिकी दर्ज करने काे लेकर हाईवाेल्टेज ड्राम चल रहा था। पुलिस ने घटनास्थल से स्वचालित पिस्टल के कई खाेखे भी बरामद किए हैं।

दूसरी पत्नी व सौतेली बेटी को मारी गोली, दोनों की हालत गंभीर, आरोपित का भाई गिरफ्तार

मुजफ्फरपुर/कांटी |कांटी थाने के बारमतपुर गांव में जिला परिवहन कार्यालय के पूर्व कर्मचारी शारिक बशीरी ने ब्रह्मपुरा गफूर बस्ती की रहनेवाली दूसरी पत्नी से विवाद के बाद गोली चला दी। इसमें दूसरी पत्नी व उसकी 17 वर्षीय बेटी को गोली लगी है। दोनों को गंभीर स्थिति में बैरिया स्थित मां जानकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। शारिक फरार हो गया। पत्नी ने शारिक व दो अन्य लोगों के खिलाफ बयान दिया है। पुलिस ने शारिक के भाई आशिफ को गिरफ्तार किया है। शारिक पर उसकी सौतेली बेटी ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि वे उससे अक्सर गलत हरकत करते थे। शुरुआत में तो अक्ल न रहने से वह विरोध नहीं की, बाद में विरोध करने लगी तो मां से पिता की अनबन हो गई। घायल बेगम खातून ने बताया कि 2009 में पहले पति की मौत के बाद शारिक से प्रेम विवाह किया, लेकिन पहले पति की बेटी पर उसकी निगाह गलत हो गई। इसे लेकर झगड़ा हुअा तो बच्चे के साथ मायके में रहने लगी। इस बीच शारिक ने बेटी से निकाह का गलत कागज बनवा लिया है। कहता है कि उसने मुझसे नहीं, बल्कि बेटी से शादी की। विवाद के बीच कुछ माह पूर्व बेटी के साथ दिल्ली में बहन के पास चली गई थी। शनिवार को दिल्ली से लौटने पर शारिक के बारमतपुर स्थित घर पर झगड़ा खत्म करने गई तो बात बढ़ने पर शारिक ने पिस्टल से गोली चला दी। एक गोली बेटी व बेगम को सीने व पेट में दो गोलियां लगी हैं। कांटी थानेदार ने बताया कि घायल का बयान दर्ज कर आरोपित की गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है। पटना हो गया था तबादला : बेगम खातून ने बताया कि हाल में शारिक बसेड़ी का मुजफ्फरपुर डीटीओ कार्यालय से पटना तबादला हो गया था। वह कृषि विभाग में पटना में ड्यूटी कर रहा था। हालांकि, इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है।

शाम करीब 4 बजे दातापुर पचभिड़वा पोखर के निकट पटेढी निवासी पप्पू सिंह के पुत्र विक्की कुमार (21 वर्ष ) की गोली मार कर हत्या कर दी गई। मृतक के पिता ने पुराने मामले को लेकर नामजद अभियुक्तों पर हत्या का आरोप लगाया गया है। शव को पाेस्टमाॅर्टम के लिए एसकेएमसीएच भेजा गया है। प्राथमिकी दर्ज एवं अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु छापामारी की जा रही है।
-राजेश शर्मा, एसडीपीओ, सरैया।

Source link