BIHARMIRROR

Welcome to Biharmirror

Patna News In Hindi : Money sharing and old feud led to the murder of Sanjay Lala | पैसे का बंटवारा और पुरानी अदावत बनी संजय लाला की हत्या की वजह

  • घायल बहन ने पूछताछ में बताए अपराधियाें के नाम, सभी स्थानीय

दैनिक भास्कर

Jun 27, 2020, 05:32 AM IST

पटना. सुपारी किलर संजय लाला के हत्यारों को पुलिस ने चिह्नित कर लिया है। अपराधियों की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है। जांच में अबतक यह बात सामने आई है कि संजय लाला की हत्या अपराध के दौरान हाथ लगे पैसे और माल के बंटवारे को लेकर हुई है। कुछ स्थानीय अपराधियों से भी लाला की रंजिश थी। घटना के दौरान कुछ ऐसे अपराधी भी शामिल थे, जिसकी लाला से अदावत थी।

सूत्रों की मानें तो हाजीपुर में किसी जमीन की डीलिंग को लेकर भी लाला का कुछ लोगों से विवाद चल रहा था। हालांकि, पुलिस ने शुक्रवार को दो लोगों को हिरासत में लिया। दोनों इंदिरा नगर के रहने वाले हैं। पुलिस दोनों से पूछताछ कर रही है। सिटी एसपी पूर्वी जितेंद्र कुमार ने कहा कि अपराधियों को चिह्नित कर लिया गया है। जल्द ही शातिरों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। 
इधर, पुलिस ने शुक्रवार को भी पीएमसीएच में लाला की घायल बहन व वकील रंजू सिन्हा से पूछताछ की। रंजू ने सभी अपराधियों के नाम बताए, जो घटना में शामिल थे। कुछ को वह पहचान नहीं रही थी। रंजू की सेहत में अब सुधार हो रहा है। बुधवार की देर रात हथियारबंद अपराधियों ने घर में घुसकर संजय लाला को गोलियों से छलनी कर दिया। वहीं बहन रंजू ने विरोध किया तो उसे चाकू से वार कर अधमरा कर दिया।

नाबालिग था तो पिता पर तान दिया था कट्टा
पूर्व मंत्री मोती लाल कानन के बेटे अतुल कानन की हत्या में कई लोग शामिल थे। घटना में शूटर संजय लाला ही था। संजय गिरफ्तार हुआ था और हाजीपुर कोर्ट ने उसे उम्रकैद की सजा सुनाई थी। वह पांच साल जेल में रहा था। बाद में जमानत पर बाहर आया। लाला जब नाबालिग था, तभी से अपराध की दुनिया में उतर गया। कम उम्र में ही उसे माेहल्ले के ही एक अपराधी ने चाकू मारकर घायल कर दिया था। बताया गया कि जब पिता ने उसे डांटा तो उन पर ही उसने कट्टा तान दिया था।

Source link