BIHARMIRROR

Welcome to Biharmirror

Patna News In Hindi : No splattering, now large areas will be made container wise, areas with more patients are being marked | छाेटे-छाेटे नहीं, अब बड़े इलाकों काे बनाया जाएगा कंटेनमेंट जाेन, ज्यादा मरीजाें वाले इलाकों को किया जा रहा चिह्नित

दैनिक भास्कर

Jul 11, 2020, 06:07 AM IST

पटना. शहर में कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए बड़े इलाके को कंटेनमेंट जोन बनाया जाएगा। इसकी तैयारी प्रशासन ने शुरू कर दी है। सदर अनुमंडल क्षेत्र में अबतक 37 कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं। शनिवार को राजीवनगर, पाटलिपुत्र कॉलोनी समेत आधा दर्जन इलाकों में कंटेनमेंट जोन बनाया जाएगा।

इसके अलावा प्रशासन के स्तर पर समीक्षा चल रही है कि किस इलाके में सबसे अधिक छोटे-छोटे जगहों पर कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। इसमें सबसे अधिक कदमकुआं, बुद्धा कॉलोनी, बोरिंग रोड आदि इलाका शामिल है। सदर एसडीओ तनय सुल्तानिया ने कहा कि जिन इलाकों में ज्यादा संख्या में छोटे-छोटे कंटेनमेंट जोन हैं, उन इलाकों को बड़े स्तर पर कंटेनमेंट जोन घोषित कर सील किया जाएगा। 

एम्स से महिला डॉक्टर समेत 12 और एनएमसीएच से 25 डिस्चार्ज

एम्स में 18 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। पटना और पटना के आसपास इलाकों के 14, जबकि समस्तीपुर, मुजजफरपुर, पुर्णिया, बेगूसराय से एक-एक कोरोना के मरीज भर्ती हुए हैं। मुज्जफरपुर के एसकेएमसीएच की डॉक्टर प्रतिमा समेत 12 मरीज कोरोना से जंग जीत कर घर गये 146 लोगों के फ्लू  की जांच की गई। जिसमें 54 संदिग्ध मिले हैं। एम्स के नोडल अफसर डॉ. संजीव कुमार ने बताया कि अभी एम्स में कुल 232 मरीजों का इलाज चल रहा है।
उधर, एनएमसीएच से शुक्रवार काे 25 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। अबतक अस्पताल से स्वस्थ हुए 490 मरीजों को छुट्टी दी जा चुकी है। शुक्रवार काे 75 संदिग्ध और 15 पॉजिटिव मरीज भर्ती किए गए। फिलहाल 402 मरीजों का इलाज चल रहा है, जिनमें 260 पॉजिटिव हैं।

Source link