BIHARMIRROR

Welcome to Biharmirror

Patna News In Hindi : Number of 212 new corona infected patients found in the district, shops are also open in Container Jane | जिले में पांच नए कोरोना संक्रमित मरीज मिलने से संख्या हुई 212, कंटेनमेंट जाेन में भी खुली हैं दुकानें

  • कागजों पर हो रही महज खानापूर्ति, जिले में सामुदायिक स्तर पर लगातार बढ़ रहा कोरोना संक्रमण

दैनिक भास्कर

Jul 14, 2020, 08:34 AM IST

शेखपुरा. जिले में लगातार सामुदायिक स्तर पर कोरोना का संक्रमण बढ़ता जा रहा है। वहीं, सोमवार को पांच नए कोरोना पॉजेटिव मरीज मिले हैं। जिसमें दो अरियरी यूको बैंक, एक हथियावां, एक बंगाली पर एवं एक जखराज स्थान के मरीज संक्रमित पाए गए हैं। जिससे जिले की संख्या बढ़कर 212 हो गया है। इस बाबत डीपीएम श्याम कुमार निर्मल ने बताया कि अब तक 167 लोग स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके है। जबकि अभी भी 45 संक्रमित मरीजों का इलाज शहर के जखराज स्थान स्थित कोविड केयर सेंटर में इलाज किया जा हैं।

इसके आलावा जिले से प्रतिदिन 65 लोगों का सैंपल जांच के लिए जा रहा हैं। इधर, जिला मुख्यालय के अलावे विभिन्न स्थानों पर बढ़ी रही सामुदायिक स्तर पर कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए जिला प्रशासन व स्वास्थ विभाग मिलने वाले संक्रमितों के एरिया को कंटेनमेंट जोन घोषित करते हुए डीएम ने संबंधित अधिकारीयों को सील करने का आदेश दिया है। साथ ही नियमों का पालन कराने के लिए जिले के 30 अतिसंवेदनशील स्थानों पर मजिस्ट्रेट व पर्याप्त मात्रा में पुलिस बल की तैनाती का आदेश दिया था।

लेकिन डीएम के इस आदेश का अधिकांश जगह पर कोई खास असर  नहींं दिख रहा है। कोरोना बीमारी को लेकर स्वास्थ्य विभाग भी लापरवाह दिख रही है। एक तरफ जहां कंटेनमेंट जोन घोषित होने के बाद उस एरिया में सोशल डिस्टेंसिग का पालन  नहींं हो रहा है। वहीं, बेरोकटोक  प्रतिदिन दुकानें खुल रही है। जिले में लगातार सामुदायिक स्तर पर बढ़ रहे कोरोना ने अब अधिकारी, बैंक कर्मी आदि को चपेट में ले लिया है। वहीं, सामुदायिक स्तर पर बढ़ रहे लगातार कोरोना संक्रमण के कारण जिले वासियों में हड़कंप मचा हुआ हैं।
कंटेनमेंट जोन में खुले रहे सभी दुकानें
सामुदायिक स्तर पर बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के कारण जिले के कई स्थानों को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है। इसके बावजूद भी कंटेंटमेंट जोन में दुकाने खुली रहती है। जिसके कारण भी कोरोना संक्रमण का प्रभाव दिन प्रतिदिन बढ़ता दिखाई दे रहा है। जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन के द्वारा अभियान चलाने के बाद कई दुकानों को सील कर बंद करा दिया गया है। इसके बावजूद भी कंटेनमेंट जोन में दुकानदार दुकान खुले हुए हैं। जिसके कारण जगह-जगह पर भीड़ लग रही है। लोग कोरोनावायरस से बचाव को लेकर अब भी जागरूक  नहींं हो रहे हैं।

कंटेनमेंट जोन के नाम पर हो रही खानापूर्ति : कई प्रखंडों में लगातार कोरोना मरीज मिलने के बाद डीएम ने इन इलाकों में कंटेनमेंट जोन बनाने का निर्देश दिया था। जिसके बाद संबंधित अधिकारियों के द्वारा सिर्फ जगह-जगह बाँस-बल्ला लगाकर मोहल्ले में जाने वाले रास्ते को बंद कर दिया गया। वहीं, दूसरे रास्तों से लोग आसानी से आवागमन कर रहे थे। इसके साथ कन्टेंटमेंट जोन घोषित किये गए सभी स्थानों पर दंडाधिकारी व पुलिस बल को तैनात किया गया हैं। लेकिन उक्त स्थानों पर एक भी दंडाधिकारी व पुलिस बल तैनात  नहींं हैं। 

बैंक व ग्राहक सेवा केंद्र में कराया गया सैनिटाइजेशन
जिले विभिन्न बैंको के शाखा प्रबंधक व कर्मी के कोरोनावायरस से संक्रमित पाए जाने पर जिले के सभी बैंक का ग्राहक सेवा केंद्र को सैनिटाइज किया गया है। सभी बैंक प्रबंधक व ग्राहक सेवा केंद्र को निर्देश दिया गया कि बिना मास्क पहने कोई भी व्यक्ति बैंक में प्रवेश  नहींं करेंगे। 

जिले के कई विभाग के अधिकारी भी हुए कोरोना से संक्रमित

जिले में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के चपेट में अधिकारी भी आने लगे हैं। जिसके कारण के विभिन्न विभाग के अधिकारी सहित पुलिस बल भी हरकत में आ गई है। जिले के पीएचइडी विभाग, डीडीसी कार्यालय, जिला योजना विभाग के सहायक योजना पदधिकारी, अरियरी बीडीओ सहित अन्य विभाग के कर्मी व बैंक कर्मी को कोरोना संक्रमण होने के बाद सड़क पर मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई है।

जिलेवासी  नहींं हो रहे जागरूक : डीपीआरओ सत्येंद्र प्रसाद ने कहा कि जिला में कोरोनावायरस एक संक्रामक बीमारी का रूप लिया है, जिसकी संख्या लगातार बढ़ रही है। सोमवार को जिले में 5 व्यक्तियों का सैंपल पॉजिटिव पाया गया है। इस प्रकार जिला में कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 212 हो गयी है। उन्होंने कहा कि लगातार कोविड-19 की संख्या बढ़ने के बावजूद भी जिले वासी जागरूक  नहींं हो रहे हैं। जिला प्रशासन के द्वारा लोगों को कई माध्यमों से उन्हें जागरूक किया जा रहा है, लेकिन कुछ व्यक्ति अपनी आदत से लाचार हैं ,जो बिना काम के, बिना मास्क पहने सड़कों पर मटरगश्ती कर रहे हैं।

Source link